मुख पृष्ठ
Home
 
सहकारिता सेवा की महिला अधिकारियों ने बालिका सदन में मनाया तीज उत्सव बालिका सदन की बालिकाओं का किया उत्साहवर्धन
जयपुर, 1 अगस्त। मातृ शक्ति को समाज में उचित सम्मान दिलाने और इसे उत्सव के रूप में मनाने के लिये श्रावण मास की तीज का अपना महत्व है। इस अवसर पर प्रत्येक महिला विशेषकर वंचित, अभावग्रस्त को उस खुशी का अहसास हो सके और वह अपने को समाज का अभिन्न अंग समझ सके, इसी धारणा को साकार करने के लिये सहकारिता विभाग की महिला अधिकारियों द्वारा समाज कल्याण विभाग द्वारा गांधी नगर में संचालित बालिका सदन में बालिकाओं के साथ तीज उत्सव मनाया। यह जानकारी गुरूवार को श्रीमती सोनल माथुर, तकनीकी सहायक, रजिस्ट्रार ने दी। उन्होंने बताया कि इस अवसर पर बालिकाओं को लहरिये, मेंहदी के पैकेट एवं घेवर वितरित कर उनमें आत्म विश्वास जगाने के लिये बातचीत की गई। उन्हें अपनों के अभाव का अहसास न हो इसके लिये सभी महिला अधिकारियों द्वारा उनके अनुभवों को साझा करते हुये समाज में निड़र रूप से आगे बढ़ने के लिये प्रोत्साहित किया गया। उन्होंने बताया कि प्रदेश की संस्कृति में त्यौहारों का अपना महत्व है। तीज का त्यौहार हमारे जीवन को उत्साह से लबरेज कर हमें एक नई उर्जा के साथ आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। बालिका सदन में आयोजित तीज समारोह में श्रीमती उषा कपूर सतसंगी, श्रीमती सुरभि शर्मा, श्रीमती ज्योति गुप्ता, श्रीमती नंदिता राठौड, श्रीमती कृति शर्मा, श्रीमती रश्मि वर्मा, श्रीमती कल्पना जोशी, श्रीमती संतोष कंवर, अंजलि मीणा, हरप्रीत कौर, प्रीति यादव, रजनी गुप्ता फौजिया खान, मंजूलता एवं आभा दीक्षित शामिल हुई।
 
 
Site designed & hosted by National Informatics Centre.
Contents provided by Department of Cooperation, Govt. of Rajasthan.