मुख पृष्ठ
Home
 
मूंग एवं उड़द के लिये 29 अक्टूबर से पुनः शुरू होगा ऑनलाइन पंजीयन
जयपुर, 26 अक्टूबर। मूंग एवं उड़द के उत्पादक कई किसान गिरदावरी के अभाव एवं रजिस्ट्रेशन वेबसाइट पर दबाव के चलते अपनी उपज को समर्थन मूल्य पर बेचने के लिये अपना ऑनलाइन पंजीयन नहीं करवा पाये थे। अब ऐसे किसान 29 अक्टूबर से नजदीकी ई-मित्र केन्द्र या खरीद केन्द्र पर जाकर ऑनलाइन पंजीयन करा सकते हैं। यह जानकारी राजफैड की प्रबंध निदेशक डॉ. वीना प्रधान ने शुक्रवार को दी। उन्होंने बताया कि कई किसानों ने खरीद के लिये 3 अक्टूबर से मूंग एवं उड़द के लिये पंजीयन करवाना प्रारम्भ करवाया था लेकिन किसानों द्वारा पंजीयन के दौरान मूल गिरदावरी अपलोड नहीं करवाई गई थी, ऐसे किसानों को गिरदावरी अपलोड कराने की सूचना दी गई थी। किसानों द्वारा गिरदावरी से अपलोड कराने से वेबसाइट पर अत्यधिक दबाव होने से नये किसानों के रजिस्ट्रेशन नहीं हो पा रहे थे। अब रजिस्ट्रेशन से वंचित रहे किसान अपना पंजीयन करवा सकते हैं। प्रबंध निदेशक ने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा प्रदेश में राजफैड के माध्यम से 2.39 लाख मी.टन मूंग एवं 88 हजार 375 मी.टन उड़द की समर्थन मूल्य पर खरीद की जा रही है। उन्होंने बताया कि मूंग के लिये 6975 रुपये प्रति क्विंटल तथा उड़द के लिये 5600 रुपये प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य निर्धारित है। उन्होंने बताया कि सोयाबीन एवं मूंगफली के लिये ऑनलाइन पंजीयन का कार्य जारी है। डॉ. प्रधान ने बताया कि राजफैड द्वारा मूंग की खरीद के लिये 130 खरीद केन्द्र तथा उड़द के लिये 58 खरीद केन्द्र बनाये हैं। उन्होंने बताया कि किसान को मूंग एवं उड़द के समर्थन मूल्य पर बेचान के लिये ई-मित्र केन्द्र या खरीद केन्द्र के माध्यम से आधार कार्ड, भामाशाह कार्ड, जमाबन्दी, गिरदावरी एवं बैंक पास बुक की डिटेल पोर्टल पर अपलोड कराना आवश्‍यक है।
 
 
Site designed & hosted by National Informatics Centre.
Contents provided by Department of Cooperation, Govt. of Rajasthan.