मुख पृष्ठ
Home
 
22 लाख 16 हजार किसानों के जारी हुये 6739 करोड़ के ऋणमाफी प्रमाण पत्र 29 जुलाई तक आयोजित हुए 5454 शिविर 6 हजार 240 करोड़ रुपये का हुआ फसली ऋण वितरित
जयपुर, 30 जुलाई। सहकारिता मंत्री श्री अजय सिंह किलक ने सोमवार को बताया कि प्रदेश में 4 जून से 29 जुलाई तक 5 हजार 454 ऋणमाफी शिविरों का आयोजन किया जा चुका है। सहकारी बैंकों से जुड़े 22 लाख 16 हजार 685 किसानों के 6739 करोड़ 96 लाख रुपये के ऋण माफी प्रमाण पत्र जारी कर दिये गये हैं तथा इन शिविरों के माध्यम से 12 लाख 44 हजार 685 किसानों ने 3606.19 करोड़ रुपये के ऋणमाफी प्रमाण पत्र प्राप्त कर लिये हैं। उन्होंने बताया कि खरीफ सीजन में लगातार फसली ऋण का वितरण किसानों को किया जा रहा है और 29 जुलाई तक 6 हजार 240 करोड़ रुपये का फसली ऋण किसानों को बांटा जा चुका है। किसानों को नया फसली ऋण वितरण तेजी से किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 15 अगस्त तक सभी ग्राम सेवा सहकारी समितियों में शिविरों का आयोजन कर ऋणमाफी प्रमाण पत्र जारी कर दिये जायेंगे। प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता श्री अभय कुमार ने बताया कि 29 जुलाई तक 8 लाख 17 हजार 355 सीमान्त एवं लघु किसानों को 2515.94 करोड़ रुपये तथा 4 लाख 27 हजार 330 अन्य किसानों को 1090.25 करोड़ रुपये के फसली ऋण माफी के प्रमाण पत्र प्रदान किये गये। श्री कुमार ने बताया कि किसान द्वारा मूल ऋणमाफी के बाद शेष बकाया राशि जमा कराने पर एवं ऋण के लिये आवेदन करने पर पूर्व में जितना ऋण स्वीकृत था उतना ऋण किसानों को उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आयोजित किये गये 5 हजार 454 शिविरों में 5877 ग्राम सेवा सहकारी समितियों के किसानों को लाभान्वित किया गया है। रजिस्ट्रार, सहकारिता श्री राजन विशाल ने बताया कि शिविरों में 8 लाख 17 हजार 355 सीमान्त एवं लघु किसानों का 2350 करोड़ 49 लाख रुपये मूल ऋण, 129 करोड़ 73 लाख रुपये ब्याज राशि एवं 35 करोड़ 72 लाख रुपये की शास्ति राशि सहित कुल 2515 करोड़ 94 लाख रुपये का कर्जमाफ किया गया है।
 
 
Site designed & hosted by National Informatics Centre.
Contents provided by Department of Cooperation, Govt. of Rajasthan.