मुख पृष्ठ
Home
 
जयपुर जिले में गुरूवार को आयोजित शिविरों में 4 हजार 975 किसानों का 14 करोड़ रूपये से अधिक का ऋण माफ ऋण माफी के साथ ही हाथों-हाथ किसानों को मिला नया ऋण
जयपुर, 07 जून। राज्य में चल रहे ऋण माफी शिविरों के तहत जयपुर जिले में गुरूवार को 10 ग्राम सेवा सहकारी समितियों में शिविर आयोजित किये गये। इन शिविरों में जिले के 4 हजार 975 किसानों का 14.02 करोड़ रूपये का ऋण माफ कर दिया गया है। शिविर में किसानों को ऋण माफी प्रमाण-पत्र वितरित किये गये। म्हाने बोहत बड़ी राहत मिली छै गोविन्दगढ़ से लगभग 4 किलोमीटर की दूरी पर ढोढसर ग्राम सेवा सहकारी समिति में किसानों की ऋण माफी को लेकर शिविर आयोजित हुआ। शिविर में आस-पास के किसान उपस्थित थे, जिनमें महिला किसान सदस्य भी थी। शिविर में 472 किसानों का 1.22 करोड़ रूपये का ऋण माफ किया गया। इस समिति के किसान प्रभाती लाल का कहना था कि मैंने सोसाइटी से 25 हजार रूपये का ऋण 12 मई, 2015 को लिया था, परिस्थितियों के कारण मैं ऋण नहीं चुका पाया और इस कारण से मेरे ऊपर ब्याज 4110 रूपये, शास्ति 682 रूपये एवं मूलधन 24659 रूपये सहित कुल 29451 रूपये का भार हो गया था। जिससे मैं डिफॉल्टर की श्रेणी में आ गया था लेकिन सरकार के किसानों के हित में लागू की गई कर्जमाफी की योजना से मेरा पूरा कर्ज, ब्याज और शास्ति सहित कुल 29451 रुपये माफ हो गये। सरकार की इस योजना से म्हाने बोहत बडी राहत मिली छै। पोस मशीन से मिल रहा है नकद ऋण इसी ग्राम सेवा सहकारी समिति की किसान सदस्य करेलन देवी का कहना है कि आज मुझे शिविर में ऋणमाफी का प्रमाण पत्र मिला और मेरा 27028 रुपये का पूरा कर्ज माफ हो गया। इससे मैं अपने आपको बहुत खुश महसूस कर रही थी और मेरी यह खुशी दोगुनी हो गयी जब मैंने शिविर में नये ऋण के लिये आवेदन दिया तो सरकार ने तत्काल नया ऋण स्वीकृत कर दिया। शिविर में ही पोस मशीन से हाथो हाथ मैंने स्वीकृत ऋण राशि नकद प्राप्त कर ली जिससे मैं अब अपने खेती बाड़ी के कामों के लिये जरूरत के सामान ला पाउंगी। शिविर में 11 किसानों के नए ऋण के लिये आवेदन करने पर उन्हें तत्काल 2.65 लाख रुपये का ऋण भी स्वीकृत किया गया। ढोढ़सर शिविर के दौरान विधायक श्री रामलाल शर्मा, प्रबंध निदेशक सीसीबी श्री भोमा राम, संयुक्‍त मुख्‍य अंकेक्षक श्री गोपाल कृष्‍ण सहित पात्र किसान एवं बड़ी संख्‍या में स्‍थानीय लोग उपस्थित थे। अतिथियों ने पात्र किसानों को ऋणमाफी प्रमाण पत्र वितरित किये।
 
 
Site designed & hosted by National Informatics Centre.
Contents provided by Department of Cooperation, Govt. of Rajasthan.