मुख पृष्ठ
Home
 
.दृढ़ इच्छा शक्ति एवं सहकारिता से विकास के नए आयाम हुए स्थापित -सहकारिता मंत्री श्री अजय सिंह किलक
जयपुर, 29 दिसम्बर। सहकारिता एवं गोपालन मंत्री श्री अजय सिंह किलक ने आज शुक्रवार को सिविल लाइन्स, जयपुर स्थित अपने निवास पर ‘4 साल सहकारिता विभाग के बढ़ते कदम’ पुस्तिका एवं वर्ष 2018 के ‘सहकार कैलेण्डर’ का विमोचन किया। श्री किलक ने बताया कि सहकारिता विभाग ‘एक सबके लिए, सब एक के लिए’ के मूल मंत्र पर चलते हुए सबके सतत एवं समावेषी विकास के लिए कार्य कर रहा है। उन्होंने बताया कि सहकारिता वह माध्यम है जिससे सभी का समग्र विकास संभव है। दृढ़ इच्छा शक्ति एवं सहकारिता की राह वह माध्यम है जिससे विकास की नए आयाम बनते हैं और हम उसमें पूरी तरह से सफल हुए हैं। उन्होंने बताया कि यह सहकारिता की ही शक्ति है कि राज्य के फसली ऋण लेने वाले सभी किसानों का मात्र 27.50 रुपए में 6 लाख का व्यक्तिगत बीमा किया जा रहा है तथा उन्हें चार वर्षों में 58 हजार करोड़ रुपए से अधिक का ब्याज मुक्त फसली ऋण का वितरण कर कीर्तिमान कायम किया है। श्री किलक ने बताया कि ‘4 साल सहकारिता विभाग के बढ़ते कदम’ पुस्तिका एवं वर्ष 2018 के ‘सहकार कैलेण्डर’ के माध्यम से सहकारिता के माध्यम से किसान, महिला, वृद्धजन सहित आमजन के आर्थिक सशक्तिकरण एवं सामाजिक सुरक्षा के लिए चलाई जा रही योजनाओं के व्यापक प्रचार प्रसार के लिए उन्हें सरल शब्दों में वर्णित किया गया है। उन्होंने आह्वान किया कि सभी को सहकारिता से जुड़ना चाहिए एवं सहकारी योजनाओं का लाभ उठाना चाहिए। सहकारिता मंत्री ने कहा कि आज सूचनाओं के आदान प्रदान के महत्व से हर कोई अच्छी तरह से वाकिफ है। इसलिए हमारा यह दायित्व है कि जब भी हम समाज में किसी वंचित से मिलें तो उसे सहकारी योजनाओं की जानकारी दें ताकि हमारा समाज सुदृढ़ हो सके। उन्होंने विश्‍वास व्यक्त किया कि सहकारी योजनाओं की जानकारी के लिए ‘4 साल सहकारिता विभाग के बढ़ते कदम’ पुस्तिका एवं वर्ष 2018 के ‘सहकार कैलेण्डर’ दोनों ही उपयोगी साबित होंगे। श्री किलक ने बताया कि सहकार कैलेण्डर का जिला केन्द्रीय सहकारी बैंकों, प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंकों, जिला उपभोक्ता भण्डारों सहित सभी सहकारी संस्थाओं के माध्यम से निःशुल्क वितरण किया जाता है, जो कि राजस्थान राज्य सहकारी मुद्रणालय लि., जयपुर का सराहनीय कदम है। इस मौके पर सहकारिता मंत्री के निजी सचिव श्री कर्मचंद चौधरी, सहकारी मुद्रणालय के प्रबंध निदेशक श्री आर. पी. मीणा, महाप्रबंधक श्री सुनील दत्त शर्मा, श्री अशोक झालानी सहित अन्य सहकारजन उपस्थित थे।
 
 
Site designed & hosted by National Informatics Centre.
Contents provided by Department of Cooperation, Govt. of Rajasthan.