मुख पृष्ठ
Home
 
अमानत संग्रहण अभियान की कल से होगी शुरूआत लाॅकर्स भी किए जाएंगे आवंटित
जयपुर, 24 अक्टूबर। बदलते आर्थिक परिवेश में आमजन को लघु बचत के लिए प्रोत्साहित करने एवं उन्हें वित्तीय सुरक्षा के दायरे में लाने के उद्देश्य से अपेक्स बैंक अमानत संग्रहण अभियान प्रारम्भ कर रहा है। यह अभियान 25 अक्टूबर से 10 नवम्बर, 2017 तक जयपुर स्थित अपेक्स बैंक सभी 12 शाखाओं तथा उदयपुर, कोटा, जोधपुर एवं बीकानेर स्थित शाखाओं में चलेगा। यह जानकारी प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता एवं दि राजस्थान को-आॅपरेटिव बैंक (अपेक्स बैंक) के प्रशासक श्री अभय कुमार ने मंगलवार को दी। श्री कुमार ने बताया कि इस अभियान के दौरान अपेक्स बैंक के ग्राहकों को उनके आवेदन पर लाॅकर्स की उपलब्धता के आधार पर आवंटन किया जाएगा। उन्होंने बताया कि अपेक्स बैंक अपने ग्राहकों को निजी एवं वाणिज्यिक बैंकों की तुलना में अधिक प्रतिस्पर्धी ब्याज दर उपलब्ध करा रहा है, जिससे सहकारी बैंकिंग से जुड़े व्यक्तियों को लाभान्वित किया जा सके। अपेक्स बैंक के प्रबंध निदेशक श्री विद्याधर गोदारा ने बताया कि वरिष्ठ नागरिकों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से उनकी बचतों पर 0.50 प्रतिशत अधिक ब्याज दर प्रदान की जा रही है। उन्होंने बताया कि आम नागरिकों के लिए एक वर्ष से कम अवधि के लिए अमानतों पर 7 प्रतिशत, एक वर्ष से अधिक एवं 2 वर्ष से कम अवधि के लिए 6.95 प्रतिशत, 2 वर्ष से अधिक एवं 3 वर्ष से कम अवधि के लिए 6.90 प्रतिशत, 3 वर्ष से अधिक एवं 5 वर्ष से कम अवधि के लिए 6.80 प्रतिशत तथा 5 से 10 वर्ष की अवधि के लिए जमा अमानतों पर 6.75 प्रतिशत ब्याज दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मियादी अमानतों पर ब्याज की गणना चक्रवर्ती आधार पर की जाती है। श्री गोदारा ने बताया कि बचत खातों में जमाओं पर दैनिक आधार पर 4 प्रतिशत की वार्षिक दर से और एक लाख से अधिक की जमा पर बचत खाता में 6 प्रतिशत ब्याज दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अपेक्स बैंक द्वारा बचतों को प्रोत्साहित करने एवं कर लाभ के उद्देश्य से सहकार कर बचत योजना, 2006 चलाई जा रही है। इस योजना में 5 वर्ष से अधिक अवधि के लिए राशि जमा कराने पर आयकर अधिनियम की धारा 80-सी के तहत छूट प्राप्त की जा सकती है। श्री गोदारा ने बताया कि खाताधारकों से अमानतों के समयपूर्व पुनर्निवेश करने पर सभी प्रकार की पेनल्टी को माफ किया गया है। उन्होंने बताया कि इससे व्यक्ति अपनी आर्थिक आवश्यकताओं के अनुसार जमा अमानतों की प्लानिंग कर सकेगा। उन्होंने आह्वान किया कि बैंक द्वारा चलाए जा रहे इस अभियान के दौरान अधिकाधिक व्यक्ति अपने खाते बैंक में खुलवाएं एवं बैंक द्वारा प्रदान की जा रही त्वरित एवं गुणवत्तायुक्त आॅनलाईन बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठाएं।
 
 
Site designed & hosted by National Informatics Centre.
Contents provided by Department of Cooperation, Govt. of Rajasthan.