मुख पृष्ठ
Home
 
रबी के लिए फसली ऋण का वितरण 1 सितम्बर से होगा प्रारम्भ 6 हजार करोड़ रुपये किए जाएंगे वितरित -सहकारिता मंत्री
जयपुर] 30 अगस्त। सहकारिता मंत्री श्री अजय सिंह किलक ने बुधवार को बताया कि प्रदेश्‍ में काश्तकारों को 1 सितम्बर से 31 मार्च, 2018 तक 6 हजार करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त फसली ऋण का वितरण प्रारम्भ किया जाएगा। यह ऋण रबी के सीजन के लिए होगा। श्री किलक ने बताया कि वर्ष 2017-18 में राज्य के किसानों को 15 हजार करोड़ रुपये के अल्पकालीन फसली ऋण वितरण का लक्ष्य रखा है और लगभग 25 लाख से अधिक किसानों को इससे लाभान्वित किया जा रहा है। श्री किलक ने कहा कि राज्य में वर्ष 2016-17 में 23¬.31 लाख किसानों को 13840.46 करोड़ रुपये का ब्याज मुक्त फसली ऋण बांटा था। उन्होंने बताया कि ब्याज मुक्त फसली ऋण लेने वाले किसानों की सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए मात्र 27.50 रुपये प्रीमियम पर 6 लाख रुपये का व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा का लाभ दिया जा रहा है। सहकारिता मंत्री ने बताया कि रबी सीजन के लिए जिलेवार ऋण राशि वितरण के लक्ष्य तय कर दिए हैं। उन्होंने बताया कि रबी सीजन में केन्द्रीय सहकारी बैंक श्री गंगानगर सर्वाधिक 540 करोड रूपये का ऋण वितरित करेगा जबकि हनुमानगढ़ 530 करोड, पाली 410 करोड, भीलवाड़ा एवं जालौर 330-330 करोड, सीकर 290 करोड़, जयपुर 280 करोड़, बाड़मेर 260 करोड़, चित्तोडगढ़ 250 करोड़, झुंझूनू 230 करोड़, झालावाड़ 210 करोड़, जोधपुर एवं सवाईमाधोपुर 200-200 करोड़, अजमेर 190 करोड़ रुपये का अल्पकालीन ऋण वितरण सदस्य कृषकों को करेगा। श्री किलक ने बताया की इसी प्रकार से केन्द्रीय सहकारी बैंक चुरू 180 करोड़, उदयपुर 170 करोड़, अलवर 160 करोड़, बीकानेर एवं कोटा 150-150 करोड़, बांसवाड़ा एवं भरतपुर 140-140 करोड़, बूंदी एवं सिरोही 120-120 करोड़, दौसा, डूंगरपुर एवं नागौर 90-90 करोड़, जैसलमेर 80 करोड़, बांरा 60 करोड़ तथा टोंक 10करोड़ रूपये का ब्याज मुक्त फसली सहकारी ऋण देगा।
 
 
Site designed & hosted by National Informatics Centre.
Contents provided by Department of Cooperation, Govt. of Rajasthan.