मुख पृष्ठ
Home
 
उपभोक्ता संघ की वार्षिक साधारण सभा पेंशनर्स को मिलेगी दवाइयों की होम डिलेवरी-उपभोक्ता सामग्री की भी शीघ्र होगी ऑनलाईन बिक्री-रजिस्ट्रार एवं शासन सचिव, सहकारिता कॉनफैड को 3करोड 20 लाख रूपए का शुद्ध लाभ
जयपुर, 25 नवम्बर। रजिस्ट्रार एवं शासन सचिव, सहकारिता श्री अभय कुमार ने कहा कि पायलट आधार पर जयपुर में पेंशनर्स को दवाइयों की होम डिलेवरी दिए जाने के लिए एवं जयपुर के उपभोक्ताओं को ऑनलाईन शॉपिंग के माध्यम से उपभोक्ता वस्तुएं उपलब्ध कराने की कार्ययोजना एवं वेबसाईट तैयार कर ली गई है तथा इसे शीघ्र ही प्रारम्भ किया जाएगा। श्री कुमार शुक्रवार को यहां सहकार भवन में राजस्थान राज्य सहकारी उपभोक्ता संघ लि. जयपुर की 31 वीं वार्षिक साधारण सभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि एस.एम.एस. अस्पताल में भवन/स्थान उपलब्ध होते ही कॉनफैड का उपहार सुपर मार्केट एवं केन्टीन खोली जाएगी। इसके लिए अस्पताल प्रशासन से बातचीत चल रही है। शासन सचिव सहकारिता एवं कॉनफैड के प्रषासक श्री अभय कुमार ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कहा कि यह हर्ष का विषय है कि कॉनफैड स्थापना के 50 वर्ष सफलता पूर्वक पूर्ण कर रहा है। संस्था का वर्ष 2015-16 में टर्नओवर 106.04 करोड रूपए तथा शुद्ध लाभ 320.08 लाख रूपए रहा है, जो गत वर्ष की तुलना में क्रमश: 23.96 करोड रूपए तथा 153.45 लाख रूपए अधिक है। उन्होंने बताया कि कॉनफैड ने अपने अनुभागों का कम्प्यूटरीकरण कर व्यवस्थाओं को सुचारू एवं पारदर्शी बनाया है। उन्होंने कहा कि जयपुर शहर में 9 विक्रय केंद्रों के माध्यम से उपभोक्ताओं को दैनिक उपयोग की सस्ती एवं गुणवत्तायुक्त वस्तुएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं तथा मसाला प्लांट के माध्यम से मसालों की पिसाई कर एगमार्क प्रमाणीकरण से मसाले बेचे जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जयपुर शहर में पेंशनर्स को एन.ए.सी. बिलों के पेटे भुगतान आर.टी.जी.एस. के माध्यम से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कॉनफैड द्वारा दीपोत्सव मेला,2016 में लगभग 2.27 करोड रूपए का व्यवसाय किया गया। उन्होंने कहा कि आगामी वर्षों में भी इसी प्रकार के मेलों का आयोजन कर आमजन को लाभान्वित किया जाएगा। श्री कुमार ने कहा कि जिला, सेटेलाईट, सी.एच.सी. स्तर पर सहकारी दवा विक्रय केंद्र आरम्भ कर स्थानीय युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए संबंधित जिले में स्थित अस्पतालों से संपर्क कर दुकान आवंटन के प्रयास किए जा रहे हैं। स्थान उपलब्ध होते ही सहकारी दवा विक्रय केंद्र खोलने की कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने सदस्यों का आह्वान किया कि बदलते हुए आर्थिक परिवेश में आम उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधाऐं उपलब्ध कराने हेतु एवं अपनी विश्वओसनीयता बनाए रखते हुए उचित मूल्य पर गुणवत्ता पूर्ण वस्तुएं उपलब्ध कराएं एवं संस्थाएं आपसी कडीबंधन के तहत क्षेत्र विशेष के प्रसिद्ध उत्पाद दूसरे क्षेत्रों में भी उपलब्ध करवाएं। इससे पहले प्रबंध निदेशक कॉनफैड श्री उत्तम चंद तोषावडा आमसभा के सभी सदस्यों का स्वागत करते हुए उद्बोधन दिया। सभा में अनेक सदस्यों ने सहकारी उपभोक्ता आंदोलन को गति देने के सुझाव दिए। आमसभा में वर्ष 2015-16 के अंकेक्षित लेखों व भावी कार्ययोजना का अनुमोदन, इस वर्ष के लिए अंकेक्षक नियुक्ति के लिए अधिकृत करने सहित विभिन्न विषयों पर विचार विमर्श व अनुमोदन किया गया। साधारण सभा में कॉनफैड के सदस्य संस्थाओं के प्रतिनिधियों के अतिरिक्त राजफैड की प्रबंध निदेशक डॉ. वीना प्रधान अतिरिक्त रजिस्ट्रार(उपभोक्ता) श्री जी. एल. स्वामी सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।
 
 
Site designed & hosted by National Informatics Centre.
Contents provided by Department of Cooperation, Govt. of Rajasthan.